अधिकारियों के लिये प्रबधंन में स्नातकोत्तर कार्यक्रम

कामकाजी व्यक्तियों के लिये प्रबन्धन में त्रिवर्षीय परास्नातक कार्यक्रम

(अन्श-कालिक) (डब्लु-एम-पी)
(पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम इन वर्किंग मैनेजमेंट)

कार्यरत प्रबन्धकों के लिये कार्यक्रम

नोएडा परिसर के अभियान के अन्श के रूप में जुलाई 2005 में आई आई एम लखनऊ ने कामकाजी व्यक्तियों के लिये प्रबन्धन में त्रिवर्षीय परास्नातक कार्यक्रम ( अन्श-कालिक) (डब्लु-एम-पी) को प्रारम्भ किया। इसका सातवाँ बैच 30 जून 2011 से प्रारम्भ होगा।

डब्लु-एम-पी कार्यरत व्यक्र्तियों, उद्यमियों तथा पेशेवरों के लिये विशेष रूप से तैयार किया हुआ है जो कि प्रबन्धन की एक औपचारिक शिक्षा के माध्यम से अपने काम को वर्तमान नौकरी / व्यवसाय को पूरी तरह समय देकर जारी रखते हुए प्रबन्धन तथा कौशल को बेहतर बनाना चाहते हैं। यह कार्यक्रम काम करने के साथ साथ औपचारिक शिक्षा प्राप्त करने वाले इच्छुकों की प्रशिक्षण आवश्यकताओं तथा पद्धतियों की पूर्ति करने के लिये तैयार किया गया है। साथ ही यह कार्यक्रम आई आई एम लखनऊ में सभी परास्नातक कार्यक्रमो से अपेक्षित मानको तथा उत्साह को बनाए रखते हुए तैयार किया गया है।

इसका लक्ष्य है भविष्य के व्यवसाय प्रबन्धन के लिये आवश्यक कौशल तथा मजबूत वैचारिक सिद्धन्तो का विकास करना. साथ ही यह कार्यक्रम प्रतिभागियो में नेतृत्वशीलता तथा समूह में कार्य करने की भावना का विस्तार करता है तथा वैश्विक परिद्रश्य में नेतृत्वशीलता में हो रहे परिवर्तनो से भी अवगत करवाता है. 27 माह के इस कार्यक्रम में 30 क्रेडिट का पाठ्यक्रम है जिसे सफलतापूर्वक पूर्ण करना चाहिये। इस कार्यक्रम के उद्देश्य प्रबन्धकों को योग्य बनाते हैं कि वे:

  • आधुनिक समाज तथा उनके वैशिष्ट्य मूल्यों के सामाजिक- आर्थिक, तकनीकी व जैविक प्रभावो के अर्थ को समझ सकें, समाविष्ट कर सकें।
  • प्रबन्धन के मूल क्षेत्र तथा प्रभावी क्षेत्रो में आधुनिक तथा कौशल को हासिल कर सकें।
  • अभिनव तथा विशलेषणात्मक द्रश्टिकोणों को परिवर्तन के अनुरूप विकसित कर सकें तथा संगठन सम्बन्धी व्यवस्थाओं के कौशल तथा प्रभावकारिता में वृद्धि कर सकें।
  • सामाजिक रूप से सक्रिय रहने की तथा व्यावसायिक नागरिक होने की महत्ता को समझ सकें।

उपाधि

कामकाजी व्यक्तियों के लिये प्रबन्धन में त्रिवर्षीय परास्नातक कार्यक्रम के सफलतापूर्वक समापन पर विद्यार्थियो को “कामकाजी व्यक्तियों के लिये प्रबन्धन में त्रिवर्षीय परास्नातक कार्यक्रम” की उपाधि प्रदान की जाएगी।

Top